,

इस IPS ऑफिसर के एक गाने से प्रेरित होकर डेढ़ लाख लोगों ने लिया नेत्रदान का संकल्प

श्रीमद्भागवत गीता में श्रीकृष्ण ने मानव जीवन की सार्थकता को तभी पूर्ण माना है जब मनुष्य अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए प्रयास करते हुए किसी भी रुप में समाज सेवा से जुड़ा रहे। मनुष्य जीवन की इस उत्तम परिभाषा को अपने जीवन में उतारा है श्री एके रवि कृष्णा ने जो आईपीएस ऑफिसर हैं और इस समय आंध्र प्रदेश के कर्नूल जिले में पुलिस सुपरिटेंडेंट के पद पर कार्यरत हैं।

प्रशासनिक सेवाओं के साथ-साथ रवि कृष्णा लोगों को नेत्रदान के लिए प्रेरित करने के अपने अनोखे मिशन पर हैं। इस मिशन से जुड़ने से पहले उन्होंने स्वयं अपने नेत्र एवं अंगों के दान का संकल्प लिया उसके बाद ही मानवता की भलाई के लिए अन्य लोगों को प्रेरित करने की दिशा में कदम बढ़ाए। इतना ही नहीं उन्होंने कपत्रला नाम के ऐसे गांव को गोद लिया जहां के 21 लोग जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं। यह गांव बदला लेने वाले हत्यारों का गांव है जहां हिंसा का बोलबोला है। लेकिन रवि कृष्णा ने इस गांव की नियति और सोच को अपने प्रयासों से बदलने का फैसला किया है। इसके लिए उन्‍होंने गांव के बच्‍चों के लिए विभिन्‍न शिक्षा कार्यक्रम और नेत्रदान की मुहिम की शुरूआत भी यहां से ही की।

अपने इस प्रयास के लिए रवि कृष्णा को लोगों के विरोध का सामना भी करना पड़ा लेकिन गांव के कुछ अच्‍छे लोगों ने जब रवि का साथ देना शुरू किया तो धीरे-धीरे लोगों की सोच बदलने लगी। कर्नूल के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर से उन्होंने गांव के सरकारी स्कूल में 10 कमरे एवं गांव की सड़कों को दुरुस्त करवाने के साथ शिक्षा कार्यक्रम चलाने के लिए  साठ लाख रूपए की सहायता राशि की स्वीकृति भी दिलवाई है। समाज के इस सच्चे सेवक ने अपनी प्रेरणादाई कविता के द्वारा लोगों को मृत्यु के बाद नेत्रदान के लिए भी प्रेरित किया है। सोशल मीडिया पर रवि कृष्णा की इस कविता की खूब सराहना भी हो रही है। अब तक डेढ़ लाख लोग रवि कृष्णा से प्रेरणा पाकर 3 लाख नेत्रहीनों को नेत्र दे चुके हैं और जाने कितने नेत्रहीनों का भविष्य अंधेरे से उजाले की ओर ले जाने वाले हैं।

सही अर्थों में भारत के रत्न है ऐसे सच्चे समाज सेवक जो समाज के लोगों की सोच को प्रभावित कर के देशवासियों की दशा और देश की दिशा बदलने की क्षमता रखते हैं।

आप अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं और इस पोस्ट को शेयर अवश्य करें 

आपका कमेंट लिखें