,

22 साल की उम्र में अपनी पहली कोशिश में UPSC क्रैक करने वाले IPS सचिन हैं लाखों लोगों के फिटनेस आइकॉन

प्राचीन काल से यह कहावत प्रचलित है कि सेहत से बड़ा कोई धन नहीं हैं। इसी को चरितार्थ किया है IPS अधिकारी सचिन अतुलकर ने। फिटनेस के जुनूनी सचिन पुलिस डिपार्टमेंट के अफसर-कर्मचारियों के आइकॉन हैं तथा शक्ल सूरत में किसी हीरो से कम नहीं है। वर्तमान में वे बतौर एसपी उज्जैन में पदस्थ हैं। अच्छी शक्ल और बॉडी के साथ-साथ सचिन पढ़ाई में भी अव्वल रहे है। 2007 बैच के आईएएस अधिकारी सचिन मात्र 22 साल की उम्र में अपनी पहली कोशिश में यूपीएससी की परीक्षा में सफलता का परचम लहराया था।

भोपाल में जन्मे सचिन के पिता फॉरेस्ट सर्विस से रिटायर अधिकारी हैं और भाई मिलिटरी सेवा में कार्यरत हैं। शुरू से ही उनकी पारिवारिक पृष्ठभूमि भी स्वास्थ्य को लेकर बहुत जागरूक रही है। जब उन्होंने बॉडी बिल्डिंग को चुना तो उसके लिए उन्हें एक कोच का गाइडेंस मिला जिससे वे परफेक्ट बॉडी बनाने में सफल हुए। वे रोजाना एक्सरसाइज करते हैं और कभी-कभी योगा भी करते हैं। आज उनकी फिटनेस सबों के लिए मिसाल है।

एक्सरसाइज की खूबियों के बारे में सचिन बताते हैं कि व्यायाम करने से स्ट्रेस दूर होता है और माइंड भी फ्रेश रहता है।इस वजह से वह अच्छे से अपनी ड्यूटी कर पाते हैं। अपने बिजी शेडूल से भी वक़्त निकाल कर वह हर रोज़ एक्सरसाइज करते है। इसके साथ ही वह एक अच्छे स्पोर्ट्स पर्सन भी रहे हैं। शुरू से ही उनकी खेलो में रुचि रही हैं। वे 1999 में राष्ट्रीय लेवल पर क्रिकेट खेल चुके हैं औऱ उन्हें 2010 में गोल्ड मेडल भी मिल चुका है। क्रिकेट के अलावा IPS ट्रेनिंग के दौरान उन्होंने हार्स राइडिंग को अपना शौक बनाया। यही वजह रही कि वर्ष 2010 में हॉर्स राइडिंग के राष्ट्रीय स्तर पर शो जंपिंग में सचिन को गोल्ड मेडल से नवाजा गया।

इन्हीं सब खूबियों के कारण आज वो जहाँ भी जाते हैं, लोगो के आकर्षण का केंद्र बन जाते हैं। सचिन सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव हैं। हाल ही में उनकी उज्जैन में महाकाल की सवारी के दौरान की तस्वीरों को 30 हज़ार से ज्यादा लाइक्स मिल चुके हैं।

सोशल मीडिया पर स्टार बनने के बाद सचिन ने एक पोस्ट में लिखा कि किसी व्यक्ति के रूप को ही उसका सबकुछ मानकर प्रसिद्धी नहीं देनी चाहिए, उस व्यक्ति के अंदर और भी काबिलियत हो सकती है जो हम खुली आँखों से नहीं देख सकते। हम सब को मिलकर सिर्फ एक व्यक्ति की बजाय सुंदर राष्ट्र बनाने का प्रयास करना चाहिए।

Dear well wishers please don't make looks and appearance as the sum total of a person.There can be lot more to a person…

Posted by Sachin Atulkar IPS on 7 ऑगस्ट 2017

आज जब लोग व्यस्तता का कारण बताकर एक्सरसाइज से दूर भागते हैं, वही सचिन इस बात की मिसाल हैं कि इतने महत्वपूर्ण व अत्यधिक व्यस्तता वाले पद पर होते हुए भी वह एक्सरसाइज के लिए टाइम निकालते हैं और लोगों को स्वस्थ जीवन जीने के लिए प्रेरित करते हैं।

आप अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं और इस पोस्ट को शेयर अवश्य करें

आपका कमेंट लिखें