, ,

इस डॉक्टर ने टीवी पर एक महिला को देखकर यह भांप लिया कि उसके गले में कैंसर है…..

कितनी बार कोई व्यक्ति टेलीविज़न पर किसी के गले के उभार को देखकर यह समझ जाता है कि उसे कैंसर है? कभी भी नहीं सुना न! सुनने में यह अटपटा लगता है, परंतु ऐसे ही एक डॉक्टर ने टेलीविजन पर लाइव देख कर एक महिला के जीवन को बचा लिया।

32 वर्षीया निकोल मक्गिनेस्स एक टेलीविजन शो पर एक प्रतियोगी कलाकार के रूप में प्रस्तुत हुई। वह अभी जानलेवा ब्रेन कैंसर को मात देकर बची थी परंतु उन्हें जरा भी अंदाजा नहीं था कि उनके जीवन में एक और चिंता अभी आने वाली है। परन्तु एक ENT- ओटोलरैंगोलोजिस्ट, डॉ एरिच पी वोइट, ने टेलीविज़न पर निकोल को देखकर यह भांप लिया कि उनके गले में एक गांठ है और वह कैंसर हो सकता है।

“उनके पास विकल्प था कि वे या तो इसे ऐसे ही अनदेखा कर देते या फिर जल्दी ही निकोल की  मदद करते।”

निकोल को देख कर वह बड़े चिंतित थे क्योंकि उन्हें यह स्थिति विषम और संदिग्ध लग रही थी। डॉक्टर एरिच कहते हैं, “इस तरह के सिर और गले की सर्जरी का विशेषज्ञ हूं और इस तरह की चीजों पर मेरा ध्यान जल्द ही चला जाता है।”

इस समस्या की वजह से डॉक्टर, निकोल से जल्द से जल्द संपर्क स्थापित करना चाहते थे परंतु उन्हें कुछ भी आइडिया नहीं था कि वह महिला कौन थीं। इसलिए एरिक ने निकोल पर एक छोटा सा फुटेज बनाकर फेसबुक पर पोस्ट किया और कहा कि लोग निकोल तक पहुंचने में उनकी मदद करें। दो सप्ताह बीत गए, उनका पता नहीं चला। सोशल मीडिया की ताकत ने आखिरकार उन्हें निकोल से मिला ही दिया।

डॉक्टर एरिच ने सूचित कर दिया कि उन्हें जल्द ही सोनोग्राम और बायोप्सी कराने की जरूरत है। और जल्द ही सारे टेस्ट करा लिए गए, और यह पुष्टि हो गई निकोल को थायराइड कैंसर है।

निकोल प्रशंसा करते हुए कहती है,“ यह मेरे लिए किसी चमत्कार से कम नहीं था एक TV प्रोग्राम में देख कर उन्होंने मेरी बीमारी के बारे में बता दिया। मैं बता नहीं सकती कि मैं उनकी कितनी आभारी हूं।” वे दोनों ऑनलाइन आपस में बातें करते हुए मिले और फिर मेल के जरिए एक दूसरे के संपर्क में रहे और फिर पहली बार एक टीवी शो गुड मॉर्निंग अमेरिका के जरिए आपस में मिले भी।

डॉ एरिच ने 3 जून को फेसबुक पर जो पोस्ट किया वह इस तरह से था, “इस पोस्ट पर बताई गई जानकारी का पालन करें (मैं इसे इसलिए पोस्ट कर रहा हूं क्योंकि फेसबुक की ताकत  के जरिए बहुत से लोगों की मदद होती है).. कुछ हफ्ते पहले मैं hgtv शो देख रहा था, तभी मैंने एक महिला के गले पर एक गांठ देखी और मुझे लगा कि उसे यह पता होना चाहिए। मैंने फेसबुक पर उस महिला का वीडियो भेजा और कहा कि महिला को गले के हिस्से की सोनोग्राम और बायोप्सी करानी चाहिए। बहुत से लोगों ने इस पोस्ट को देखा और किसी तरह से उस महिला से संपर्क हो पाया। उन्हें इस गांठ के बारे में पता ही नहीं था और उनके डॉक्टर ने भी यह नोटिस नहीं किया था। उन्होंने सोनोग्राम और बायोप्सी कराई तब उन्हें पता चला कि उन्हें थायराइड कैंसर है। उन्होंने सर्जन को दिखाया और उनका उपयुक्त इलाज हुआ होगा और मैं आशा करता हूं कि वह अभी स्वस्थ होंगी! अद्भुत ताकत है फेसबुक और अच्छे लोगों में।”

निकोल भाग्यशाली रही हैं और ब्रेन कैंसर को मात दे चुकी है। पिछली गर्मियों तक उनका इलाज पूरा हो गया। रेडिएशन, कीमोथैरेपी और ब्रेन की सर्जरी और अब वे एक सामान्य जीवन बिता रही हैं।

निकोल डॉ एरिच के प्रति आभारी हैं और कहती है, “ ईश्वर की कृपा से मैं अपने परिवार के पास वापस लौट आई हूं। हम अचंभित हैं कि कैसे एक डॉक्टर TV पर देख कर इस बीमारी को पहचान पाए और फिर मुझसे संपर्क किया।” वह बार-बार डॉक्टर का धन्यवाद करती रहीं।

यह कहानी एक जीवंत उदाहरण है कि जब एक महान पेशा किसी महान व्यक्ति से मिलता है तब चमत्कार होता है और इसके माध्यम से मानवता की महान सेवाएं संभव हो जाती हैं।

आप अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं और इस पोस्ट को शेयर अवश्य करें 

आपका कमेंट लिखें